कलेक्टर के निर्देश पर सीएमएचओ की बड़ी कार्यवाही, नोटिस के बाद सेवा पर नहीं लौटने वाले जिले के 25 स्वास्थ्य-कर्मचारियों को किया बर्खास्त

कवर्धा। जिले में स्वास्थ्य विभाग के लगातार नोटिस देने के बाद भी स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी संघ के बैनर तले गत 1 अगस्त से हड़ताल करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को कलेक्टर अवनीश कुमार शरण के निर्देश पर सीएमएचओ डॉ. के. के. गजभिए द्वारा कार्यवाही करते हुए आज बर्खास्त कर दिया गया है।लगातार नोटिस दिए जाने के बावजूद सेवा पर वापसी नहीं करने वाले कर्मचारियों में ग्रामीण स्वास्थ संयोजक(महिला/पुरुष), स्वास्थ्य पर्यवेक्षक एवं खण्ड विस्तार प्रशिक्षक शामिल हैं।

ज्ञात हो कि जिले में 249 स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल के समर्थन में आंदोलनरत थे, कलेक्टर के नोटिस उपरांत लगभग 30 कर्मचारियों ने सेवा में वापसी कर ली लेकिन बहूत से कर्मचारी अब भी आंदोलन में डटे हुए हैं, इनमें से 25 कर्मचारियों को आज बर्खास्त कर दिया गया है। डॉ गजभिए ने कहा कि चेतावनी के बाद भी कार्य पर वापसी नहीं करने वाले शेष कर्मचारियों पर भी कार्यवाही जारी रखी जायेगी। सीएमएचओ डॉ. गजभिए ने जानकारी दी कि कलेक्टर के निर्देश पर आज 25 कर्मचारियों पर कार्रवाई करते हुए बर्खास्तगी की गई है।

बर्खास्त किए गए कर्मचारी :

सीएमएचओ द्वारा बर्खास्त किये गए कर्मचारियों में सौरभ जायसवाल, शैलेन्द्र द्ववेदी, सिदराम चन्द्रवंशी, बिमला देवांगन, बाबूलाल गोड़, अविनाश गुप्ता, बीरेलाल पटेल, सुनीता सिंह, सी एस दीक्षित, अहमद हुसैन कुरैशी, दुर्गेश खरे, बलराम वारते, कुमारी संगीता साहू, सती बर्वे, राकेश चंद्रसेन, विनोद त्रिपाठी, राहुल शर्मा, गणेश राम जांगड़े, ललित चंद्राकर, उषा देवी सिंह, सुमन्त धुर्वे, पारथ चन्द्रवंशी, अशोक नवरंग, हेमलता तारक और मोहन जायसवाल के नाम सम्मिलित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *