नैमेड़ मर्ग-जांच के प्रकरण में हुआ नया खुलासा, जमीन विवाद व आपसी रंजिश को लेकर की गई थी हत्या

बीजापुर। जिले के पेद्दाकोड़ेपाल निवासी मासे कोरसा पति वंजा कोरसा ने दिनांक 07.09.2018 को थाने में रिपोर्ट कराई कि इसके पति वंजा कोरसा पिता वंगा कोरसा उम्र 45 वर्ष निवासी नदीपारा पेद्‌दाकोड़ेपाल का शव मिनगाचल पुल से 300 मीटर आगे नदी किनारे पाया गया। जिसकी सूचना पर थाना नैमेड़ में दिनांक 07.09.2018 को मर्ग क्रमांक 11/2018 कायम कर जांच में लिया गया।

प्रार्थिया के द्वारा बताया गया कि उसका पति दिनांक 04.09.2018 को 11.00 बजे सुबह खेत का मेड़ बनाने और मिनगाचल नदी का पानी देखने के लिये जा रहा हूँ, कह कर घर से निकला था। जो शाम तक घर वापस नही आने पर प्रार्थिया द्वारा परिजनों के साथ तलाश किया जा रहा था।

दिनांक 04.09.2018 के शाम को ग्राम-कडेर की शीला अवलम ने बताया कि वह गाय चराने नदी किनारे गयी थी। तब उसने वंजा को पटेलपारा पेद्‌दाकोड़ेपाल के धनीराम कोरसा, शैलु कोरसा और कडेर के सुकलु अवलम के साथ नदी के तरफ जाते देखा है। थाना प्रभारी नैमेड उमेश नेताम के द्वारा प्रकरण में प्रार्थिया ‘मासे’ के कथन के आधार पर शीला अवलम से पुछताछ करने पर वंजा कोरसा को शैलु, धनीराम और सुकलु के साथ नदी के तरफ जाने की बात सही पाये जाने पर उक्त तीनों व्यक्तियों से इस सबंध में पृथक-पृथक पुछताछ करने पर तीनों व्यक्तियों के द्वारा दिनांक 04.09.2018 को 04.00 से 05.00 बजे के बीच वंजा कोरसा को जमीन विवाद और जादू टोना करने की शंका के रंजिश के आधार पर मिनगाचल नदी में गला दबाकर पानी में डुबाकर हत्या कर लाश को पानी में बहा देना स्वीकार किया गया।

वंजा कोरसा की उक्त तीनों के द्वारा हत्या कर दिये जाने की पूर्ण संदेह पर थाना नैमेड़ में अपराध क्रमांक 29/2018 धारा 302, 201, 34 तहत् मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *